अखिलेश के मन में उठे सवाल, कहा- लगता नहीं कि राजा भैया हमारे साथ हैं

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने राज्यसभा चुनाव में रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के समर्थन को लेकर बड़ा बयान दिया है. अखिलेश ने कहा है कि लगता नहीं कि वो हमारे साथ हैं.

दरअसल, यूपी में हाल ही में राज्यसभा की 10 सीटों पर चुनाव हुए हैं. जिसमें एक सीट पर बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर भीमराव अंबेडकर ने चुनाव लड़ा और वो हार गए. इस चुनाव में राजा भैया की भूमिका को लेकर बड़े सवाल उठे.

राजा भैया ने अखिलेश यादव को समर्थन का वादा किया था और वोटिंग के बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की थी. हालांकि, मतदान के दौरान राजा भैया ने समाजवादी पार्टी के समर्थन का ऐलान किया. जबकि उन्होंने साफ कहा था कि वह बसपा के साथ नहीं हैं. जिसके बाद अखिलेश यादव ने समर्थन के लिए ट्वीट कर उनका शुक्रिया भी अदा किया था.

हालांकि, चुनाव नतीजे के बाद बसपा सुप्रीमो ने सपा के साथ गठबंधन जारी रखने का बयान दिया. इस बीच अखिलेश यादव ने राजा भैया को लेकर किया गया अपना ट्वीट भी हटा लिया.

राजा भैया पर दिया ये बयान

ट्वीट हटाने पर आज अखिलेश यादव ने सफाई दी कि यह एक भावना होती है. उन्होंने कहा, ‘हमें राजा भैया के बारे में कुछ नहीं कहना है, उन्हें खुद सोचना चाहिए कि उन्होंने क्या किया. लगता नहीं है कि वो हमारे साथ हैं.’

बता दें कि मायावती ने चुनाव हारने के बाद अपने बयान में कहा था, ‘अखिलेश यादव राजा भैया के जाल में फंस गए, लेकिन मैं उनकी जगह होती तो भले ही मेरा उम्मीदवार हार जाता लेकिन उनके उम्मीदवार को हारने नहीं देती.’ मायावती ने इसे अखिलेश के अनुभव की कमी बताते हुए कहा था मैं उनसे ज्यादा अनुभवी हूं, इसलिए इस गठबंधन को टूटने नहीं दूंगी.’