आंधी-तूफ़ान का क़हर: राजस्थान में 18 लोगों की मौत, उत्तराखंड में बादल फटने से कई दुकानें और गाड़ियां मलबे में दबी

नई दिल्ली: राजस्थान में बुधवार को आंधी-तूफ़ान ने जमकर तबाही मचाई. पूरे राज्य में 18 लोगों की मौत हो गई. ये संख्या और बढ़ सकती है. सबसे ज़्यादा तबाही भरतपुर में हुई है, जहां 11 लोगों की मौत हो गई. अलवर और धौलपुर में भी 2-2 लोगों की मौतें हुई हैं. कई लोग घायल हैं. तेज़ हवा की वजह से कई जगह पेड़ उखड़ कर गिर गए, जिससे बिजली के खंभों को नुक़सान पहुंचा है. लिहाज़ा अलवर में बुधवार रात से ही बिजली नहीं है.

वहीं उत्तराखंड के चमोली में बुधवार शाम बादल फटने से भारी तबाही की ख़बर है. नारायणबगड़ में कई दुकानें मलबे से पट गईं. तीन गाड़ियों के मलबे में दबने की भी ख़बर है.पीने के पानी की पाइपलाइन को भी नुकसान पहुंचा है. बारिश कम होने पर ख़ुद ही लोगों ने किसी प्रकार मलबा साफ किया.

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में भी बुधवार को जोरदार बारिश हुई. इतने काले बादल छाए कि दिन में अंधेरा हो गया. कई इलाकों में ओलावृष्टि भी हुई, जिससे सेब के बगीचों को नुकसान पहुंचा है.

दिल्ली-एनसीआर में तेज़ आंधी के बाद हुई बारिश ने गर्मी से जूझ रहे लोगों को राहत दी है. तापमान में गिरावट से गर्मी की तपिश कुछ कम हुई है. बारिश की वजह से कुछ फ़्लाइट्स में भी देरी हुई. दिल्ली में बुधवार को अधिकतम तापमान 38 डिग्री था लेकिन बारिश के बाद तापमान घटकर 27 डिग्री के क़रीब आ गया.