कठुआ गैंगरेप: आरोपियों के समर्थन में रैली, लगे भारत माता जय के नारे

जम्मू के कठुआ में आठ साल की बच्ची आसिफा के साथ गैंगरेप और हत्या मामले के बाद जम्मू में तनाव पैदा हो गया है. हैरान करने वाली बात तो यह कि स्थानीय बार एसोसिएशन और हिंदू एकता मंच के समर्थक रेप के आरोपियों के पक्ष में प्रदर्शन कर रहे हैं.

इस प्रदर्शन से जुड़ा एक वीडियो सामने आया है. इसमें कुछ युवक आसिफा गैंगरेप के आरोपियों के पक्ष में प्रदर्शन कर रहे हैं. साथ ही भारत माता जय के नारे भी लगा रहे हैं. उन्हें पुलिस रोकने की कोशिश कर रही है.

बताया जा रहा है कि बीते मंगलवार को कुछ वकीलों ने गैंगरेप के आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने जा रही टीम का विरोध किया और जम्मू बंद बुलाया गया था.

जानकारों के मुताबिक, जम्मू बार एसोसिएशन, बीजेपी की राज्य इकाई से ताल्लुक रखती है और आसिफा रेप केस के आरोपियों का बचाव कर रही है.

 मालूम हो कि जनवरी में जम्मू कश्मीर सरकार में भाजपाई नेता और वनमंत्री लाल सिंह और उद्योग मंत्री चंद्रप्रकाश गंगा  एक स्थानीय समूह हिंदू एकता मंच के साथ खड़े दिखे थे. उस वक्त उन्होंने रैली निकालकर गिरफ्तारियों को हिंदुओं पर लक्षित हमला करार दिया था.

गौरतलब है कि आसिफा गैंगरेप और हत्या मामले में अभी तक 8 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. इनमें 2 स्पेशल पुलिस अफसर, एक हेड कांस्टेबल, एक सब इंस्पेक्टर, एक कठुआ निवासी और एक नाबालिग शामिल हैं.

इस मामले में क्राइम ब्रांच ने चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट के समक्ष आठ आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है. इसमें यह दावा किया गया है कि रासना गांव में देवीस्थान के सेवादार सांझी राम ने बकरवाल समुदाय को इलाके से हटाने के लिए मासूम आसिफा से गैंगरेप और हत्या की साजिश रची थी.