कांग्रेस पार्टी टेक्नोलॉजी पर भरोसा नहीं करती, क्योंकि इससे पारदर्शिता आती है : रविशंकर प्रसाद

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को बैंक फ्रॉड को लकर कांग्रेस पर पलटवार किया. उन्होंने कहा कि UPA सरकार के दौरान बैंकों के रिकॉर्ड में सही चीज़ें नहीं आने दी गईं. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के दौरान एक भी एनपीए नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी टेक्नोलॉजी पर विश्वास नहीं करती है. आधार कांग्रेस पार्टी लेकर आई और उसका सबसे ज्यादा विरोध वही कर रही है. इनके नेता और वकील संसद में आधार के खिलाफ बोलते हैं और कोर्ट में भी आधार के खिलाफ बोलते भी है. कांग्रेस पार्टी को टेक्नॉलजी पर भरोसा नहीं करती क्योंकि टेक्नोलॉजी से पारदर्शिता आती है.

उन्होंने कहा कि  कांग्रेस का जो भय और भ्रम का प्रयोजन है वह आपने नोटबंदी में देखा है. राहुल गांधी ने जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स कहा था. कांग्रेस पार्टी सुधार विरोधी है. क्योंकि सुधार होगा तो देश में पारदर्शिता आएगी. देश में जवाबदेही आएगी. उन्होंने कहा कि आज हमने एक उमंग एप लांच किया है. लगभग 40 लाख लोगों ने इसे डाउनलोड कर लिया है. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मेरा स्पष्ट आरोप है कि कांग्रेस पार्टी सुधार-विरोधी है.

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने त्रिपुरा की जीत के बारे में भी बात की. उन्होंने कहा कि त्रिपुरा की जीत देश के लिए एक बहुत दूरगामी जीत है.