कुलदीप से खौफजदा अंग्रेज ‘मर्लिन’ मशीन से प्रैक्टिस में जुटे

0 commentsViews:

टीम इंडिया शुक्रवार को दूसरा टी-20 मुकाबला जीतकर फिरकी से खौफजदा इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज अपने नाम करने के इरादे से उतरेगी. मंगलवार को भारत ने बेहतरीन हरफनमौला खेल का प्रदर्शन कर मेजबान टीम को आठ विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बनाई थी.

पहले मैच में कलाई के ‘जादूगर’ कुलदीप यादव ने 24 रन देकर 5 विकेट चटकाए, जिससे इंग्लैंड में तहलका मच गया. इंग्लिश खेमा अब नेट पर अभ्यास के लिए स्पिन गेंदबाजी मशीन ‘मर्लिन’ का इस्तेमाल करेगा, क्योंकि उसके पास अभ्यास की खातिर कलाई के स्पिन गेंदबाज नहीं है. इससे पहले 2005 एशेज से पहले इंग्लैंड ने इस मशीन का इस्तेमाल किया था, जब ऑस्ट्रेलिया के पास शेन वॉर्न जैसा स्पिनर था.

मर्लिन बॉलिंग मशीन (getty)

इंग्लैंड के कप्तान इयोन मॉर्गन स्वीकार कर चुके हैं कि सीरीज के पहले टी-20 मुकाबले में कुलदीप यादव ने उनके बल्लेबाजों को पूरी तरह छका दिया. मॉर्गन ने साथ ही कहा कि अगर मेजबान टीम को भारत को सीरीज में कड़ी टक्कर देनी है, तो बाकी मैचों में मेहमान टीम के कलाई के स्पिनरों के खिलाफ बेहतर प्रदर्शन करना होगा.

लगातार छठी सीरीज जीतने की दहलीज पर टीम इंडिया

भारतीय टीम टी-20 क्रिकेट में लगातार छठी सीरीज जीतने की दहलीज पर है. इस सिलसिले का आगाज नवंबर 2017 में न्यूजीलैंड पर घरेलू सीरीज में मिली जीत के साथ हुआ था. उसके बाद से भारत ने एक भी द्विपक्षीय टी-20 सीरीज नहीं गंवाई है.

भारतीय टीम अगर सीरीज 2-0 से जीतती है, तो आईसीसी रैंकिंग में दूसरे स्थान पर काबिज ऑस्ट्रेलिया से अंतर कम हो जाएगा, जबकि 3-0 से जीतने पर वह पाकिस्तान के बाद दूसरे स्थान पर आ जाएगी.

कुलदीप का सीक्रेट, बताया- क्यों चाहते हैं बल्लेबाज मारें छक्के

दूसरी ओर भारत को ऐसा करने से रोकने के लिये ऑस्ट्रेलिया को जिम्बाब्वे में चल रही मौजूदा त्रिकोणीय सीरीज के अगले दो मैचों में जीत दर्ज करनी होगी.

दूसरी ओर इंग्लैंड अगर हारता है, तो न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज के बाद सातवें स्थान पर आ जाएगा. इंग्लैंड ने पिछले 10 टी20 मैचों में से पांच ही जीते हैं.


Facebook Comments