कॉमनवेल्थ गेम्स में भोजपुरी गीतों से रंग जमाएगी ये सिंगर, ग्रामीण टैलेंट को निखारने का उठाया जिम्मा

नई दिल्ली: भोजपुरी सिनेमा की दमदार आवाज और लोक गीत गायिका कल्पना ने ग्रामीण टैलेंट को निखारने का जिम्मा उठाया है. कल्पना ने अपने इस फैसले की घोषणा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर की. कल्पना ने ग्रामीण महिलाओं में उनकी छुपी हुई प्रतिभा या अभावों और जानकारी के अभाव में सो चुकी उनकी प्रतिभा को उभारने का फैसला किया है. महिला दिवस पर कल्पना ने कहा कि वे अक्सर ग्रामीण इलाकों में शो के लिए या निजी कार्यक्रमों के लिए जाती रहती हैं और सभी जगह स्थानीय कलाकारों में गजब की प्रतिभा देखने को मिलती है. पैसे और अपनी प्रतिभा को निखारने की जानकारी नही होने की वजह से उनकी कला असमय ही दम तोड़ देती है. उन्होंने बताया कि शक्ति मेनिफिस्ट के माध्यम से कई लोगों को फायदा पहुंचा हैं. कल्पना 4 अप्रैल से शुरू हो रहे कॉमनवेल्थ गेम्स की क्लोजिंग सेरेमनी में अपने गायकी का जलवा दिखाएंगी.