ग्राम पंचायत चुनाव: BJP की जीत, गडकरी के पैतृक गांव में कांग्रेस ने मारी बाजी

नागपुर जिले के पंचायत चुनावों में बीजेपी ने अपना दबदबा कायम रखते हुए एक बार फिर पहला स्थान हासिल किया है. जिले के बीजेपी समर्थित पैनल के सरपंच उम्मीदवारों ने 124 ग्राम पंचायतों पर जीत हासिल की है. वहीं, कांग्रेस समर्थित उम्मीदवारों ने अपना प्रदर्शन सुधारते हुए 100 ग्राम पंचायतों में जीत हासिल की है.

राष्ट्रवादी कांग्रेस समर्थित उम्मीदवारों ने 76 ग्राम पंचायतों पर जीत दर्ज की है. जिले की रामटेक, पारशिवनी, मौदा, कुही और भिवापुर तहसील में शिवसेना समर्थित पैनल के उम्मीदवारों को जीत मिली है. शिवसेना ने कुल 28 ग्राम पंचायतों पर कब्ज़ा किया है. इसके अलावा 39 ग्राम पंचायतों पर निर्दलियों की जीत हुई है.

गड़करी के पैतृक गांव में कांग्रेस की जीत…

महाराष्ट्र के नागपुर जिले में कांग्रेस ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के पैतृक गांव में ग्राम पंचायत चुनाव जीता है. पार्टी ने गुरुवार को दावा किया कि कांग्रेस समर्थित पैनल ने कलमेश्वर तहसील में बीजेपी के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी के पैतृक गांव धापेवाडा और उमरेद तहसील में उनके द्वारा गोद लिये गये गांव पचगांव में जीत दर्ज की है. मालूम हो कि ग्राम पंचायत चुनाव पार्टी के चुनाव चिन्हों पर नहीं लड़े जाते हैं लेकिन दल विभिन्न पैनलों को अपना समर्थन देते हैं.

कैसे रहे नतीजे…

कुल ग्रा.प. – 379

बीजेपी समर्थित – 124

कांग्रेस समर्थित – 100

राष्ट्रवादी समर्थित – 76

शिवसेना समर्थित – 28

बसपा समर्थित – 03

निर्दलीय- 39

अन्य पक्ष समर्थित – 09