जम्मू में नजरबंद रखे गए नेताओं को पंचायत चुनाव से पहले किया गया रिहा, हटाए गए सारे प्रतिबंध

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) से अनुच्छेद 370 हटाए जाने और सुरक्षा लॉकडाउन लागू होने के दो महीने बाद जम्मू के सभी नेताओं की नजरबंदी हटी दी गई है. हालांकि, कश्मीर घाटी में उनके समकक्षों को हिरासत या घर में नजरबंद रखा गया है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि जम्मू के जिन नेताओं को नजरबंद किया गया था, उन्हें रिहा कर दिया गया है और उन पर लगाए गए प्रतिबंध हटा दिए गए. यह फैसला सरकार द्वारा राज्य में पंचायत राज व्यवस्था के दूसरे स्तर के खंड विकास परिषद के लिए चुनाव की घोषणा के कुछ दिनों बाद लिया गया है. 

आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि चूंकि जम्मू क्षेत्र शांतिपूर्ण है, इसलिए राजनीतिक बंदियों को रिहा करने का निर्णय जम्मू-कश्मीर के मुख्य चुनाव अधिकारी द्वारा सोमवार को खंड विकास परिषद चुनाव के लिए मतदान की घोषणा के बाद लिया गया. जिन्हें रिहा किया गया है, उनमें देवेंद्र सिंह राणा, रमन भल्ला, हर्षदेव सिंह, चौधरी लाल सिंह, विकार रसूल, जावेद राणा, सुरजीत सलाथिया और सज्जाद अहमद किचलू शामिल हैं.