डॉक्टर से भी तारीक पे तारीक.. तारीक पे तारीक

0 commentsViews:

डॉक्टर से भी तारीक पे तारीक तारीक पे तारीक
मे मोलाना आजाद मेडिकल डेंटल हॉस्पिटल गया एक दात बदलवाने दो साल बाद लैटर आया दात बदलने के लिए, और अब फिर दात तो लगा नहीं सफाई के लिए मिली तारीक पे तारीक , वहा देखा तो सभी को जरा से काम के लिए भी मिलती है सिर्फ तरीक आपसब जानते क्यों है नहीं ना क्योकि सरकार के साथ प्राइवेट हॉस्पिटल भी मिलकर काम कर रहे है उनको मरीज का इलाज नहीं करना उनको तो सिर्फ रेगिस्टर मे सिर्फ एंट्री करनी है और यह दिखाना है की हम डेली कितने मरीज देखते है सिर्फ एंट्री, ऐसे ही जयादातर सभी होस्पिटल मे यही हाल होता है लोग नजाने कहा कहा से अपने मरीज का इलाज कराने Delhi आते है पर उनको भी बस मिलती है तो तारीक…..


Facebook Comments