नीरव मोदी और मेहुल चोकसी से जुड़ीं 120 कंपनियों की जांच शुरू, ये हैं 5 अपडेट्स

पीएनबी घोटाला मामले में सख्त कदम उठाते हुए सरकार ने गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय (एसएफआईओ) को करीब 110 कंपनियों तथा 10 सीमित जवाबदेही भागीदारी कंपनियों की जांच करने के आदेश दिए. सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि ये कंपनियां और सीमित जवाबदेही भागीदारी कंपनियां हीरा व्यापारी नीरव मोदी और उसके कारोबारी सहयोगी मेहुल चोकसी से संबंधित हैं.

नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के खिलाफ 11,400 करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक धोखाधड़ी मामले में जांच चल रही है. दोनों ही कारोबारी बैंकिंग उद्योग के सबसे बड़े घोटालों में से एक, इस घोटाले में मुख्य आरोपी हैं और कई जांच एजेंसियां मामले की जांच कर रही हैं.

सूत्रों के मुताबिक कारपोरेट मामलों के मंत्रालय ने एसएफआईओ को मोदी तथा चोकसी से जुड़ी, कुछ सूचीबद्ध कंपनियों सहित करीब 110 कंपनियों और 10 एलएलपी की जांच के आदेश दिए हैं. एसएफआईओ कारपोरेट मामलों के मंत्रालय के अधीन आता है. वह मुख्य रूप से सफेदपोश अपराधों की जांच करता है और उसके पास गिरफ्तारी के अधिकार भी हैं.

इस बीच अरबपति हीरा कारोबारी नीरव मोदी व उसके मामा मेहुल चोकसी के खिलाफ कार्रवाई तेज करते हुए प्रवर्तन निदेशालय ने 22 करोड़ रुपये मूल्य के आभूषण जब्त किए हैं. वहीं आयकर विभाग ने सात संपत्तियों को कुर्क किया है तो सीबीआई ने उसकी कंपनी के चार वरिष्ठ अधिकारियों से पूछताछ की.