बरेली में ग्राम प्रधान की पोती को लेकर फरार हुआ फर्जी बाबा

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के भमोरा थाना क्षेत्र के एक गांव में फर्जी बाबा विधेयक महाराज उर्फ़ वीरपाल ग्राम प्रधान की 19 साल की पोती को लेकर फरार हो गया. वह खुद को संत कृपाल आश्रम के संचालक स्वामी दिव्यानंद का उत्तराधिकारी बताता था. पुलिस ने आरोपी बाबा के खिलाफ केस दर्ज करके उनकी तलाश शुरू कर दी है.

जानकारी के मुताबिक, बाबा विधेयक महाराज उर्फ वीरपाल भमोरा थाना क्षेत्र के एक गांव में सत्संग कर रहा था. बीती रात बाबा ने प्रधान के भतीजे और उसकी पोती को अपने आश्रम पर ही रोक लिया. अगले दिन सुबह बाबा और लड़की गायब मिले. इसके बाद हंगामा मच गया. लोगों ने तुरंत भमोरा थाना पुलिस को इसके बारे में सूचित किया.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जोगेंद्र कुमार ने बताया कि लड़की की तलाश में पुलिस टीमों को लगाया गया है. बाबा से संबंधित लोगों से पूछताछ की जा रही है. बाबा के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है, उसे जल्द पकड़ लिया जाएगा. गांव प्रधान का भतीजा अपनी 19 वर्षीय बेटी को लेकर दलीपुर गांव में स्थित सत्संग सुनने गया था.

नाबालिग ने मासूम से किया रेप

 बरेली जिले के सीबीगंज थाना क्षेत्र में एक गांव में नाबालिग किशोर ने आठ साल की बच्ची के साथ रेप किया. पुलिस ने बताया कि 8 वर्षीय बच्ची रविवार को खेत पर गेहूं की बाली बीनने गयी थी. वहां गांव का 13 साल का एक किशोर मिल गया. उसने बच्ची को सामने के बाग़ में आम बीनने को चलने को कहा. बच्ची उसके साथ चली गई.

वहां किशोर ने एकांत में ले जाकर बच्ची के साथ कथित रूप से बलात्कार किया. पिता की तहरीर पर सीबीगंज थाने में किशोर की खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गयी है. नगर पुलिस अधीक्षक अभिनन्दन कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस ने मामले की गंभीरता से लेते हुए केस दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है. अभियुक्त को हिरासत में लिया गया है.