बहरीन से बोला डॉन बुदेश- मेरे नाम पर दाऊद दिलवा रहा है BJP विधायकों को धमकी

यूपी में बीजेपी विधायकों को फोन पर धमकी देकर रंगदारी मांगे जाने के मामले में नया मोड़ आ गया है. इस मामले में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के जिस खास गुर्गे अली बुदेश का नाम आ रहा था, उसने आजतक से एक्सक्लूसिव बातचीत में खुलासा किया है कि उसने किसी भी विधायक से रंगदारी नहीं मांगी है. न ही किसी को धमकी भरा मैसेज किया है.

अली बुदेश इस वक्त बहरीन में हैं. उसने बताया, ‘मैंने किसी भी विधायक को धमकी नहीं दी है. मुझे भी जानकारी मिली है कि मेरे नाम से भारत में रंगदारी मांगी जा रही है. मुझे खबर मिली है कि यूपी ही नहीं दिल्ली और मुंबई में भी इस तरह के धमकी भरे मैसेज मेरे नाम से किए जा रहे हैं. यह सब दाऊद इब्राहिम के इशारे पर छोटा शकील करवा रहा है.

उधर, यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने बताया, ‘जिस नंबर से धमकी भरे मैसेज आ रहे हैं, वह अमेरिका के टेक्सास का है. आईडी ट्रेस करने से पता चला है कि वह अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद के एक साथी अली बुदेश के नाम पर है. वहीं इंटरनेट प्रोटोकॉल अड्रेस (आईपी अड्रेस) पाकिस्तान का आ रहा है. बुदेश फिलहाल दाऊद से अलग गैंग चलाता है.’

आनंद कुमार ने बताया कि अली बुदेश गल्फ देशों में सक्रिय है, लेकिन पिछले पांच वर्षों से भारत में उसकी कोई आपराधिक गतिविधि नहीं हुई है. अली बुदेश की मां मुंबई और पिता बहरीन के रहने वाले हैं. उनका वहीं पर बिजनेस है. पुलिस को कुछ अहम सुराग मिले हैं, जिसके आधार पर तेजी से जांच की जा रही है. साइबर सेल इस मामले की जांच कर रही है.

बताते चलें कि यूपी में इनदिनों सत्ताधारी दल बीजेपी के विधायक डरे हुए हैं. उन्हें फोन पर जान से मारने की धमकी देकर रंगदारी मांगी जा रही है. अभी तक बीजेपी के करीब 25 विधायकों से व्हाट्सऐप के जरिए 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई है. कसया से विधायक रजनीकांत मणि त्रिपाठी और डिबाई से अनीता राजपूत ने इस मामले में केस दर्ज कराया है.

बीजेपी विधायक रजनीकांत मणि त्रिपाठी ने लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली में केस दर्ज कराया है. इससे पहले लखनऊ, सीतापुर, बुलंदशहर और शाहजहांपुर सहित कई जिलों से बीजेपी विधायकों को ऐसे धमकी भरे मैसेज मिले हैं. दुबई नंबर से मैसेज भेजने वाले ने अपना नाम अली बुदेश भाई लिखा है. पुलिस ने सभी विधायकों की सुरक्षा बढ़ा दी है.

इन प्रमुख विधायकों को मिली धमकी

1- शशांक त्रिवेदी- मोहाली, सीतापुर

2- डॉ. अनीता लोधी राजपूत- डिबाई, बुलंदशहर

3- लोकेंद्र प्रताप सिंह- मोहम्मदी, लखीमपुर खिरी

 4- वीर विक्रम सिंह- कटरा, शाहजहांपुर

5- विनय द्विवेदी- मेहनौन, गोंडा

6- प्रेम नारायण पांडेय- तरबगंज, गोंडा

7- विनोद कटियार- भोगनीपुर, कानपुर देहात

8- श्याम बिहारी लाल- बरेली

9- मानवेंद्र सिंह- दादरौल, शाहजहांपुर

10- रजनीकांत मणि त्रिपाठी- कसया, कुशीनगर