मजीठिया मामले पर सिद्धू का वार- ड्रग रैकेट के सामने घुटने टेककर केजरीवाल ने दिखाई बुज़दिली

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की माफी से पंजाब की सियासत में उबाल आ गया है. आप सांसद भगवंत मान के पंजाब अध्यक्ष पद से इस्तीफे के बाद अब पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने भी केजरीवाल पर हमला किया है.

सिद्धू ने कहा कि केजरीवाल न सिर्फ बुजदिल हैं, बल्कि वह एक हारे हुए जुआरी है. उन्होंने पंजाब में आम आदमी पार्टी का राजनैतिक कत्ल कर दिया है. उन्होंने ड्रग माफिया के सामने घुटने टेककर पंजाब की जनता के साथ बहुत बड़ा धोखा किया है. अब आम आदमी पार्टी का अस्तित्व खत्म हो जाएगा. यह पार्टी बिखर जाएगी.

इससे पहले आप सांसद भगवंत मान ने पंजाब अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया है. भगवंत मान ने फेसबुक पर पंजाबी और अंग्रेजी भाषा मे पोस्ट करते हुए अपने इस्तीफ़े की जानकरी दी है.  भगवंत मान ने लिखा “मैं आम आदमी पार्टी के पंजाब अध्यक्ष पद से इस्तीफ़ा दे रहा हूं, लेकिन ड्रग माफिया और तमाम भ्रष्टाचार के खिलाफ मेरी लड़ाई एक ‘आम आदमी’ की तरह जारी रहेगी.

संजय सिंह भी नाराज!

 आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह की तरफ से भी अरविंद केजरीवाल को झटका लगा है. संजय सिंह ने कहा है कि मैं अब भी अपने बयानों पर कायम हूं, मैं अब भी मानता हूं कि मजीठिया ड्रग्स के कारोबार में शामिल थे. उन्होंने कहा कि मैं नहीं जानता कि अरविंद केजरीवाल का इस मुद्दे पर क्या स्टैंड है, लेकिन मैं अपनी बात पर कायम हूं.

आपको बता दें कि पंजाब चुनाव प्रचार के दौरान बिक्रम सिंह मजीठिया पर आम आदमी पार्टी के नेताओं अरविंद केजरीवाल, संजय सिंह, आशीष खेतान ने पब्लिक मीटिंग में और रैलियों के दौरान मजीठिया और उनके परिवार पर ड्रग्स की तस्करी करने और पंजाब में नशीले पदार्थ बेचने के आरोप लगाए थे. इसके बाद चुनाव खत्म होने के बाद बिक्रम सिंह मजीठिया ने अमृतसर जिला अदालत में अरविंद केजरीवाल, संजय सिंह और आशीष खेतान पर मानहानि का केस कर दिया था.