मध्य प्रदेशः फेसबुक पर लेते थे सुपारी, पुलिस ने किया गैंग का पर्दाफाश

क्या आपने कभी किसी अपराधी को फेसबुक पर जुर्म करने की ”सुपारी” लेते देखा या सुना है? नहीं ना? लेकिन मध्य प्रदेश में पुलिस ने एक ऐसे गैंग का पर्दाफाश किया है, जो फेसबुक और सोशल मीडिया के जरिए अपराध की सुपारी लेता था. पुलिस ने गिरोह के 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

फेसबुक पर लगाते थे हथियारों वाली फोटो

दरअसल, उज्जैन अंकपात मार्ग पर रहने वाले भूपेन्द्र मीणा ने 4 अक्टूबर को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि कुछ लड़के उनके घर के सामने गाड़ी से आए और उनके साथ खड़े दोस्त पर गोली चलाई और चाकू से हमला किया. घटना के बाद पुलिस ने छानबीन करते हुए 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया.

पूछताछ में एक अनोखे गैंग का खुलासा हो गया. उज्जैन एसपी अतुल सचिनकर के मुताबिक पकड़े गए बदमाशों ने पुलिस को बताया कि उज्जैन में उनके साथ कई युवा  शोहरत और पैसा कमाने के साथ-साथ लोगों में डर पैदा करने के लिए फेसबुक पर एक ग्रुप चलाते हैं. ये सभी लड़के फेसबुक पर हथियारों के साथ अपनी फोटो पोस्ट करते हैं और अपराध की सुपारी लेते हैं. इनकी फेसबुक प्रोफाइल देखने के बाद काम कराने के लिए लोग उनसे संपर्क साधते हैं.

एसपी सचिन अतुलकर ने बताया, ”शुक्रवार रात पुलिस को सूचना मिली कि ग्राम गोन्सा में एक फार्म हाउस पर कुछ बदमाश डकैती की योजना बना रहे हैं. इसके बाद पुलिस ने घेराबंदी कर 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया. इन आरोपियों के पास से पुलिस को 6 पिस्टल, 10 चाकू, 3 तलवार और कुछ कारतूस मिले हैं. एसपी सचिन अतुलकर ने आरोपियों को पकड़ने वाली टीम को 10-10 हजार रुपये का नगद ईनाम देने की घोषणा की है.