मनित कुमार – नव वर्ष – साप्ताहिक प्रतियोगिता

अब वक़्त हैं गुजरते हुए साल को अलविदा कहने का, एक नये जोश-उमंग के साथ नये साल में जीने का, चलो अभिनंदन करते हैं आते हुये नव वर्ष 2020 का , वादा करते है कुछ बुराइयां त्यागने का , कुछ अच्छाइयों को बनाये रखने का , एक प्रण लेते है ख़ुद में मिटती हुई आदमियत और इंसानियत को बचाने का , दुनिया बदलनी हैं , वादा करते हैं पहले ख़ुद को बदलने का, गांव , शहर और मुल्क भी बदलेगा , पर अभी वक्त है आते हुए नये साल के साथ ख़ुद को सुधारने का , न दिन बदलेंगे न महीने बदलेंगे , समय है ख़ुद को सच्चाई के सांचे में ढ़ालने का, वक्त आता हैं ,वक्त जाता हैं , पर अभी वक्त है किसी के वक्त- बेवक्त काम आने का , प्रण लेना है इस नव वर्ष में , दम तोड़ते हुये अहसासों को जिंदा रखने का, वक्त है गुजरे कल को भूलकर , रिश्तों में एक नई मिठास घोलने का, नये मुक़ाम पाने का, हीरे की तरह चमकने का, समय है अब , नये साल में नये इतिहास रचने का ,कुछ कर गुजरने का , समय है कैलेंडर के साथ साथ खुद को बदलने का , जन मानस में सेवा भाव से परिपूर्ण समर्पण भावना पैदा करने का इस नव वर्ष कुछ काम करते हैं समाज मे व्याप्त विसंगतियों ,कुरीतियों को खत्म करने का । समय है इस नव वर्ष अपनी कल्पनाओं को पंख देने का, नेकी की राह पर चलने का । इस नव वर्ष सबके जीवन मे प्रकाश लाना है , वक्त है अब …….. ऐसी लौ बनकर जलने का ।।।