मुजफ्फरपुर: वोटिंग के दौरान होटल में मिली EVM, चुनाव अधिकारी के खिलाफ नोटिस

0 commentsViews:

सोमवार को बिहार की मुजफ्फरपुर लोकसभा सीट पर चल रही वोटिंग के दौरान एक स्थानीय होटल से ईवीएम मिलने की खबर को लेकर हंगामा हो गया. स्थानीय लोगों को जैसे ही ईवीएम होने की खबर मिली, लोगों ने जमा होकर हंगामा करना शुरू कर दिया. जिस अधिकारी के पास से ईवीएम बरामद हुआ वह दरअसल उस ईवीएम का संरक्षक और सेक्टर मजिस्ट्रेट था.

सेक्टर मजिस्ट्रेट अवेधश कुमार उस ईवीएम के संरक्षक थे. उन्होंने अपनी सफाई में कहा कि उनकी टीम 4 ईवीएम मशीनों को बैकअप पर लेकर चल रही थी जिससे अगर किसी पोलिंग बूथ पर ईवीएम खराब हो जाती है तो उसे तत्काल बदला जा सके.

इसी दौरान उनकी गाड़ी के ड्राइवर ने उनसे निकट के पोलिंग बूथ संख्या 1 पर जाकर मतदान करने की इच्छा जताई. इसके बाद ही अवधेश कुमार उस मतदान केंद्र के पास ही एक होटल में ईवीएम मशीन को लेकर उतर गए. जैसे ही मतदान केंद्र पर कुछ लोगों को इस बात की जानकारी होगई. पोलिंग एजेंटों को जब इस बात की जानकारी मिली कि सेक्टर मजिस्ट्रेट के पास दो ईवीएम मशीन है तो वे गड़बड़ी की आशंका जताते हुए हंगामा करने लगे.

इसी बीच, मतदान केंद्र पर पोलिंग एजेंटों को जब इस बात की भनक लगी की सेक्टर मजिस्ट्रेट के पास दो ईवीएम मशीन है तो वह गड़बड़ी की आशंका जताते हुए हंगामा करने लगे. हंगामा होने के बाद स्थानीय एसडीओ कुंदन कुमार वहां पर पहुंचे और चारों ईवीएम मशीन को अपने कब्जे में ले लिया. मुजफ्फरपुर जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने मामले की जांच कर कार्रवाई की बात कही है. सेक्टर मजिस्ट्रेट अवधेश कुमार को इस लापरवाही के लिए कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है ईवीएम मशीन होटल में कैसे पहुंची.

बिहार की मुजफ्फरपुर लोकसभा सीट समेत पांच सीटों पर 6 मई को पांचवें चरण में वोटिंग हुई. इस चरण में सात राज्यों की कुल 51 लोकसभा सीटों पर वोट डाले गए. इन 51 लोकसभा सीटों पर कुल 674 उम्मीदवार अपनी चुनावी किस्मत आजमा रहे हैं. पांचवें  चरण में कुल 60.29 फीसदी वोट पड़े, जबकि मुजफ्फरपुर सीट पर 61.27 फीसदी मतदान दर्ज किया गया. लोकसभा चुनावों के नतीजे 23 मई को घोषित किए जाएंगे.


Facebook Comments