राहुल का पीयूष गोयल पर वार, पूछा- एक लाख लगाकर कैसे कमाए 30 करोड़?

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल के परिवार पर लगे आरोप को लेकर तंज कसा है. राहुल ने ट्वीट में लिखा है कि ‘शिर्डी के चमत्कारों’ की तो कोई ‘सीमा’ ही नहीं है. कांग्रेस ने इस मामले को लेकर गोयल को तुरंत बर्खास्त करने की मांग है. कांग्रेस का आरोप है कि गोयल के परिवार के कारोबारी हित ‘चूककर्ता’ कंपनियों में रहे हैं.

कांग्रेस ने इस मामले में हितों के टकराव के किसी पहलू की न्यायिक जांच उच्चतम न्यायालय के किसी मौजूदा न्यायाधीश से करवाने की मांग की है.

कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ईमानदारी की बात तो करते हैं लेकिन गोयल के परिवार के निवेश मामलों पर चुप्प हैं. खेड़ा ने कहा कि केंद्रीय मंत्री ने सार्वजनिक पद पर होने के बावजूद इसका खुलासा नहीं किया है.

खेड़ा ने आरोप लगाया कि गोयल की पत्नी की एक कंपनी है जिसकी शुरुआत एक लाख रुपये की राशि से हुई और जिसने दस साल में ही 30 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया. खेड़ा के अनुसार यह निवेश के ‘जय शाह मॉडल’ तरह का ही मामला है जिसमें एक कंपनी का कारोबार मोदी सरकार के कार्यकाल में कई गुणा बढ़ता है.

 कांग्रेस नेता ने कहा, ‘सचाई यही है कि पीयूष गोयल के पद का दुरुपयोग हुआ है इसलिए केंद्रीय मंत्री बने रहने के पात्र नहीं हैं, उन्हें तत्काल बर्खास्त किया जाना चाहिए और उच्चतम न्यायालय के मौजूदा न्यायाधीश से जांच का आदेश किया जाना चाहिए.’

खेडा ने इस बारे में 11 कंपनियों का ब्यौरा भी दिया जिसमें शिर्डी इंडस्ट्रीज शामिल है, इस कंपनी में गोयल और उनकी पत्नी निदेशक है. उल्लेखनीय है कि शिर्डी इंडस्ट्रीज से जुड़े आरोप सामने आने के बाद पिछले हफ्ते बीजेपी की ओर से जारी बयान में गोयल ने कहा था कि इस मामले में उनकी तरफ से कुछ भी गलत या अनियमित नहीं है.