रेणु बाला धार – जवान/फौजी/सैनिक – साप्ताहिक प्रतियोगिता

भारत के शहीदों को हम
करते झुककर प्रणाम हैं,
देश की रक्षा में जिन्होंने
न्योछावर किये जान हैं ,
जय जवान, जय जवान ,
जय जवान जो इतने महान हैं.
चीन, पाकिस्तान, पड़ोसी देश
दुश्मनी दिखलाए ,
यहाँ बार बार घुसपैठ कर नुकसान पहुंचाए,
सीमा पर वीर ये अटल रहे
ये मौत से भी कभी ना डरे,
देश पे आंत न आने देंगे
ये अभिमान है
जय जवान जय जवान
जय जवान जो इतने महान हैं. युद्धभूमि पर जाने से कभी ना घबराए ,
दस-दस दुश्मन को एक अकेले मार गिराए ,
हर दुश्मन पर ये भारी है आजादी इनको प्यारी है
इनकी बहादुरी देख देख
दुनिया हैरान है
जय जवान जय जवान
जय जवान जो इतने महान हैं.
देश हमारा मोम नहीं जो
यूं ही गल जाए ,
टीला सा सिर्फ नहीं हिमालय
पलमें जो ढ़ह जाए,
फौलादी अपनी सेना है
दुश्मन से हमें क्या लेना है,
देश की रक्षा में ये जवान
सदा कुर्बान हैं
जय जवान ,जय जवान ,
जय जवान जो इतने महान हैं.