‘लोफर’ की यादें ताजा, बूथ के पास TMC समर्थकों ने खींची लक्ष्मण रेखा, कहा- पार करके दिखाओ

पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में हिंसा के कई मामले सामने आ रहे हैं. कहीं बूथ कब्जा किया जा रहा है तो कहीं मंत्री ही थप्पड़ मार रहे हैं. लेकिन इन सबके बीच पहली बार हकीकत में मतदाताओं को रोकने के लिए किसी ने सरेआम सड़क पर लक्ष्मण रेखा खींच दी.

दरअसल पश्चिम बंगाल के बीरपाड़ा से एक वीडियो सामने आया है, जिसपर आज के दौर में विश्वास नहीं किया जा सकता. इस वीडियो को देख आपको अनिल कपूर और जूही चावला की फिल्म ‘लोफर’ की याद आ जाएगी. इस फिल्म में आपने भी देखा होगा कि कैसे गुंडे वोटिंग के दिन मतदाताओं को पोलिंग बूथ पर जाने से रोकने के लिए एक लाइन खींच देता है और कहता है कि जो इसको पार करके वोट डालने जाएगा वो जिंदगी से हाथ धो लेगा.

ठीक इसी तरह पश्चिम बंगाल से एक तस्वीर सामने आई है और इसमें TMC कार्यकर्ता दबंगई कर रहा है. पोलिंग बूथ तक जा रहे मतदाताओं को अचानक बूथ से कुछ दूर पहले ही रोक दिया जाता है. पहले उन्हें वोट डालने से मना किया जाता है. लेकिन जब वो नहीं मानते तो हाथ में डंडे लिए TMC समर्थक बीच सड़क पर एक लाइन (लक्ष्मण रेखा की तरह) खींच देता है और फिर उसी फिल्मी अंदाज धमकी दी जाती है कि इस लाइन को क्रॉस करके दिखाओ.

यानी सरेआम मतदाताओं को धमकी दी जाती है कि अगर वो इस लाइन को पार करके पोलिंग बूथ तक जाते हैं तो फिर उनके साथ कुछ भी हो सकता है. बकायदा टीएमसी के ये कार्यकर्ता हाथ में डंडे लिए बीच सड़क पर मतदाताओं को पोलिंग बूथ पर जाने से रोक रहा है. इस वीडियो से चुनाव में प्रशासन की सुरक्षा तैयारियों को लेकर सवाल उठ रहे हैं.

हालांकि फिल्म ‘लोफर’ में तो एक बुजुर्ग ने हिम्मत दिखाई और वो गुंड़ों की खींची लाइन को पार कर गए. उनका कहना था कि वोटिंग उनका अधिकार है और इससे उन्हें कोई नहीं रोक सकता, इसके लिए अगर जान भी चली जाए तो कोई बात नहीं है. लेकिन वो तो फिल्मी कहानी थी जो कल्पना के आधार पर बनी.

लेकिन पश्चिम बंगाल के बीरपाड़ा में TMC के गुंडों ने जो लक्ष्मण रेखा खींची है क्या उसे पार करने की किसी ने हिम्मत दिखाई या नहीं, ये पता नहीं चल पाया है. क्योंकि जिस जगह पर TMC के कार्यकर्ता ये दादागीरी दिखा रहे हैं, वहां वोटर कम और TMC के बूथ कैप्चर ब्रिगेड ज्यादा नजर आ रहा है.