शिमोगा में चला येदियुरप्पा का जादू, 8 में से 7 सीटों पर बीजेपी का कब्जा

0 commentsViews:

कर्नाटक का शिमोगा जिला बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा का मजबूत गढ़ माना है. बीजेपी इस जिले की 8 सीटों में से 7 पर जीत हासिल की है. जबकि पिछले चुनाव में येदियुरप्पा की बगावत के चलते शिमोगा के क्षेत्र में बीजेपी खाता भी नहीं खोल सकी थी. इसका फायदा कांग्रेस ने उठाया था और चार सीटें जीती थीं, जबकि जेडीएस के खाते में तीन सीटें आई थीं.

शिमोगा जिले के तहत आठ विधानसभा सीटें आती हैं. ये सीटें शिकारीपुरा, शिमोगा ग्रामीण, शिमोगा, सागर, सोराब, भद्रावती, बेनदूर और तिरथल्ली है. भद्रावती विधानसभा सीट को छोड़कर बाकी सीटों पर बीजेपी उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है. ये क्षेत्र लिंगायत बहुल माना जाता है. येदियुरप्पा खुद भी लिंगायत समुदाय से आते हैं.

शिकारीपुरा विधानसभा सीट से बीएस येदियुरप्पा खुद मैदान में उतरे थे और उन्होंने बंपर वोटों से जीत हासिल की है. येदियुरप्पा को 86 हजार 983 वोट मिले हैं, जबकि जेडीएस उम्मीदवार को 51 हजार 566 वोट मिले थे. इस तरह से उन्होंने 35 हजार 417 वोटों से जीत हासिल की है.

येदियुरप्पा 1983 में इस सीट से पहली बार चुनाव लड़ा था और जीत हासिल की थी. इसके बाद उन्होंने 1985 उप-चुनाव, विधानसभा चुनाव 1989, 1994, 2004, 2008, 2013 और 2018 में जीत हासिल की. वह यहां से 9 बार चुनाव लड़ चुके हैं और सिर्फ एक बार हारे हैं. हालांकि साल 2013 में वह कर्नाटक जनपक्ष (KJP) से उम्मीदवार थे, जो दल उन्होंने बीजेपी से अलग होकर बनाया था.


Facebook Comments