शोपियां फायरिंग: आर्मी मेजर के पिता FIR रद्द कराने के लिए SC पहुंचे, कहा- कश्मीर में ड्यूटी आसान नहीं

 

नई दिल्ली.कश्मीर के शोपियां फायरिंग केस में पुलिस की ओर से हत्या के आरोपी बनाए गए आर्मी मेजर आदित्य कुमार के पिता गुरुवार को एफआईआर रद्द करने के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे। उन्होंने पिटीशन दायर करते हुए कहा कि उनके बेटे ने सिर्फ आर्मी के साथियों की जान बचाने के लिए फायर किए थे। इसके लिए वॉर्निंग दी गई, ताकि उग्र भीड़ रास्ता छोड़ दे और जवानों को बचाया जा सके। मौजूदा वक्त में कश्मीर में ड्यूटी आसान नहीं है, इसलिए केस वापस लेने का ऑर्डर दिया जाए। बता दें कि 27 जनवरी को पत्थरबाजों के साथ झड़प में दो प्रदर्शन कर रहे दो लोगों की जान चली गई थी।

बदले की भावना से FIR में नाम जोड़ा

– न्यूज एजेंसी के मुताबिक, लेफ्टिनेंट कर्नल करमवीर सिंह ने कहा, ”10 गढ़वाल राइफल्स के मेजर और मेरे बेटे का नाम बदले की भावना से एफआईआर में जोड़ा गया। आर्मी का एक काफिला शोपियां में अपनी ड्यूटी के लिए निकला था। जो बाद में पत्थरबाजों की उग्र भीड़ के बीच घिर गया, पथराव में आर्मी के व्हीकल को भी नुकसान पहुंचा।”
– मेजर आदित्य के पिता की ओर से सुप्रीम कोर्ट में दायर पिटीशन में कहा गया है कि बेटा आर्मी के अपने साथियों को तनाव वाले इलाके से निकालने के लिए गया था। इस दौरान सिर्फ आर्मी जवानों को रास्ता दिलाने के लिए फायर किए गए। पत्थरबाजों से कई बार आर्मी को नुकसान नहीं पहुंचाने की गुजारिश की, लेकिन वो नहीं माने। इसके बाद वहीं से हटने और रास्ते देने के लिए वॉर्निंग दी गई।