50 करोड़ रुपयों से भरी कैश वैन नाले में गिरी, गांव वाले पहुंचे लूटने

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 50 करोड़ रुपयों से भरी कैश वैन और उसकी सुरक्षा में चल रहा पुलिस वाहन जबरदस्त दुर्घटना का शिकार हो गए. कैश वैन और पुलिस की स्कॉर्पियो दोनों ही गाड़ियां अनियंत्रित होकर नाले में जा गिरीं. ग्रामीणों को जब पता चला कि नाले में पलटी गाड़ी में भारी मात्रा में नकदी भरी हुई है, तो मौके पर भारी भीड़ इकट्ठी होने लगी. हादसे में बाल-बाल बचे बैंक कर्मियों और पुलिसकर्मियों ने किसी तरह नकदी को लुटने से बचाया.

घटना रायपुर से सटे बलौदाबाजार की है. पुलिस ने बताया कि शुक्रवार को की दोपहर यह हादसा हुआ. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, कैश वैन और उसकी सुरक्षा में आगे-आगे चल रही पुलिस की गाड़ी काफी रफ्तार में थे. बलौदाबाजार के बिटकुली गांव के मलिका नाला के पास सामने से आ रही एक अनियंत्रित गाड़ी को बचाने की कोशिश में एकदूसरे से टकरा गए और नाले के नीचे जा गिरे.

SBI के चेस्ट वाहन में बैंककर्मी बैठे हुए थे, जबकि नकदी की सुरक्षा के लिए आगे-आगे चल रही स्कॉर्पियों में छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्स के करीब आधा दर्जन हथियारबंद जवान बैठे हुए. हादसे में बैंककर्मी और पुलिस के जवान बाल-बाल बच गए.

वहीं जिस अनियंत्रित वाहन को बचाने की कोशिश में दोनों वाहन पलटे, वह संभल गया और मौके से फरार हो गया. एसबीआई के चेस्ट वाहन में 32 पेटियों में करीब 50 करोड़ रुपये नकद रखे हुए थे, जिन्हें धरमजयगढ़ के विभिन्न बैंकों और एटीएम मशीनों में जमा करने के लिए ले जाया जा रहा था.

पुलिस कर्मियों ने जैसे-तैसे खुद को संभाला और दुर्घटनाग्रस्त वाहन से बाहर निकले. वहीं दुर्घटनाग्रस्त वाहन में 50 करोड़ की नकदी होने की खबर जब ग्रामीणों तक पहुंची तो भारी तादाद में लोग मौके पर इकट्ठा  होने लगे.

हालांकि पुलिस कंट्रोल रूम को वक्त पर जख्मी पुलिस कर्मियों ने सूचना दे दी. लिहाजा फ़ौरन दुर्घटना स्थल पर अतिरिक्त फ़ोर्स रवाना कर दी गई. बलौदाबाजार जिले के एसपी आरएन दास के मुताबिक 32 पेटियों में रखी नकदी पुलिस ने अपने कब्जे में ले ली है. इसे सिटी कोतवाली में रखा गया है ताकि सुरक्षित रूप से धरमजयगढ़ पहुंचाया जा सके.