‘मेरा मन मेरे रंग’ में रँगकर मनाया दषहरा

0 commentsViews:

puraskrit-baal-rachnakar-3

बिलासपुर। बाल रचनाकारों की राश्ट्रीय पत्रिका ‘अभिनव बालमन’ द्वारा रामनाटक समिति रोड़ा सेक्टर के सहयोग से ‘मेरा मन मेरे रंग’ का आयोजन किया गया जिसमें चित्रकला, रंगोली, मेहंदी, निबंध प्रतियोगिता के माध्यम से बाल रचनाकारों ने अपनी विभिन्न विधाओं में रचनात्मकता का प्रदर्षन किया।
बाल रचनाकारों ने दषहरे के अवसर पर आयोजित इस आयोजन में अपनी चित्रकला के माध्यम से राम के विभिन्न रूपों को चित्रित किया। रंगोली में भी रावण का चेहरा, आलेखन आदि बनाए। मेहंदी में बाल रचनाकारों ने एक-दूसरे के हाथों को मेहंदी से सजाया। निबंध प्रतियोगिता में विभिन्न विशयों पर अपने भावों को लिखकर अभिव्यक्त किया। एक ही दिन में, एक ही समय पर भिन्न-भिन्न विधाओं में बाल रचनाकारों ने एक से बढ़कर एक उत्कृश्ट प्रदर्षन किया।
साहित्यकार, पत्रकार कुलदीप चंदेल ने सभी उत्कृश्ट प्रदर्षन करने वाले बाल रचनाकारों को रामलीला स्थल पर रामलीला के मंच पर पुरस्कृत किया गया। पुरस्कृत बाल रचनाकारों को पुरस्कार के साथ-साथ अभिनव बालमन का नया अंक, प्रषस्ति पत्र प्रदान किया गया।
आयोजन का संयोजन अभिनव बालमन के हिमाचल प्रदेष प्रतिनिधि जयनारायण कष्यप ने बाल रचनाकारों को अभिनव बालमन के उद्देष्य से सभी बाल रचनाकारों को अवगत कराया।
इस अवसर पर अनाउंसर, लेक्चरर, नाटककार एवं नाटक निर्देषक विनोद षर्मा, आई.एस.एफ. से रिटायर्ड कमांडर नवल कुमार, स्कूल लेक्चरर गोपाल षर्मा, राश्ट्रपति द्वारा सम्मानित कला अध्यापक सोहनलाल षर्मा, अक्षय कुमार, अविनाष कपूर, अंकुर षर्मा आदि गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

 


Facebook Comments