The Writer Hub – Open Mic

The Writer Hub – Open Mic
Aadab Delhi, As we know there are only few cities left which actually appreciate the art and continuously work towards the upliftment of it. Delhi is one such city that’s why we have the maximum artists from this city irrespective… Read more ›

किताब समीक्षाः दक्षिणपंथ के मध्यमार्गी अटल

किताब समीक्षाः दक्षिणपंथ के मध्यमार्गी अटल
अटल पर जनता सरकार के अनुभव का ही प्रभाव पड़ा कि उन्होंने 1980 में बनी नई पार्टी बीजेपी के सिद्धांतों में गांधीवादी समाजवाद और सकारात्मक धर्मनिरपेक्षता को शामिल करने पर जोर दिया. हालांकि जिस वक्त अपने पुराने अवतार, जनसंघ के… Read more ›

वर्तमान परिप्रेक्ष्य में होली

वर्तमान परिप्रेक्ष्य में होली
डॉ. उर्मिला पोरवाल सेठिया (बेंगलुरु) होली का त्यौहार वसंत पंचमी से ही आरंभ हो जाता है क्योंकि उसी दिन पहली बार गुलाल उड़ाया जाता है। इस दिन से जगह जगह पर परंपरानुसार फाग और धमार के गीत गाना प्रारंभ हो… Read more ›

यदि तुम चाहो – रश्मि प्रभा

यदि तुम चाहो – रश्मि प्रभा
बैठो कुछ खामोशियाँ मैं तुम्हें देना चाहती हूँ वो खामोशियाँ जो मेरे भीतर के शोर में जीवन का आह्वान करती रहीं ताकि तुम मेरे शोर को पहचान सको अपने भीतर के शोर को अनसुना कर सको ! जन्म से लेकर… Read more ›

15 अगस्त 1947 को भारत की धरती से अंग्रेजों का राज्य समाप्त हो गया।

15 अगस्त 1947 को भारत की धरती से अंग्रेजों का राज्य समाप्त हो गया।
डॉ.उर्मिला पोरवाल “सेठिया” (बैंगलोर) 15 अगस्त 1947 को भारत की धरती से अंग्रेजों का राज्य समाप्त हो गया। यानि गोरे अपने इंग्लैण्ड वापस चले गये और देश पर अपने ही देशवासियों का शासन हो गया था। उस समय चारों ओर… Read more ›

तलाक़ तलाक़ तलाक़……

तलाक़ तलाक़ तलाक़……
(रेखा जसोरिया) मैं इसे नसीब कहूँ ,या कहूँ इत्तेफ़ाक… ना बन सकी उससे तो कह दिया तलाक़ तलाक़ तलाक़…… मैने हर लम्हा जिसे चाहा, जिसे दिल में रखा… जिसका रस्ता मैने हर शाम उम्मीदों से तका….. जिसकी खा़तिर मैं होती… Read more ›