हनीमून के लिए बेस्ट जगह है नेपाल

नेपाल घूमना अपने देश में घूमने जैसा ही है। प्राकृतिक सुंदरता से परिपूर्ण नेपाल में विश्व प्रसिद्ध पशुपतिनाथ मंदिर के अलावा और भी बहुत से रमणीक पर्यटन स्थल हैं। अगर आप भी जल्द ही विवाह बंधन में... Read more »

दार्शनिक ही नहीं धार्मिक स्थल भी है सारनाथ

यदि भारत के सबसे महत्वपूर्ण दर्शनीय स्थलों की सूची बनाई जाए तो सारनाथ का नाम पहली पंक्ति में आएगा। सारनाथ सिर्फ दर्शनीय स्थल ही नहीं है यह अपनी धार्मिक परम्परा एवं ऐतिहासिक अवशेषों की वजह से देश-विदेश से... Read more »

घूमने लायक जगह है तमिलनाडू का तेनी

तेनी अपने आप में इतनी खूबसूरती समेटे हुए हैं कि आपकी नजरें यहीं ठहर जाएंगी। मगर पर्यटन के हिसाब से यहां के और भी कई मुख्य आकर्षण हैं। तेनी को लैंड ऑफ डैम, टेंपल और... Read more »

प्राचीन और गौरवमय है उज्जैन का इतिहास

उज्जैन भारत का प्रसिद्ध और प्राचीन नगर है। यह क्षिप्रा नदी के सुरम्य तट के बायीं ओर बसा है। विक्रम संवत के प्रवर्तक राजा विक्रमादित्य की राजधानी उज्जैन को उज्जयिनी, अवंतिका, कुल स्थली, कनकश्रृंगा, प्रतिकल्पा, विशाला, अमरावती, पद्मावती, चूणामणि, कुमुदवती… Read more »

दीवाली पर्वः सुख समृद्धि का प्रतीक

दीपावली जैसे पर्व को प्राचीन काल से ही सुख व समृद्धि का प्रतीक माना गया है। इस दिन देवी ‘लक्ष्मी‘ का पूजन होता है। धन संपत्ति तो शुरू से ही मानव समाज की आकांक्षा व आवश्यकता रही... Read more »

शांत वातावरण के लिए प्रसिद्ध रानीखेत

उत्तराखंड में स्थित रानीखेत अपने शांत वातावरण और खूबसूरत .श्यों के लिए प्रसिद्घ है। अगर आप गर्मियों में फेमिली के साथ घूमने या फिर रिफ्रेश होने का प्लान बना रहे हैं तो रानीखेत का रुख कर सकते... Read more »

सपनों का देश है थाईलैंड

थाईलैंड का उत्तरी हिस्सा हरे-भरे पहाड़ों व नदी घाटियों से घिरा है। आदिवासी संस्ति की झलक भी यहां मिलती है। बैंकाक से दो घंटे का सफर तय कर सैलानी पट्टाया पहुंच सकते हैं। यह सुंदर सागरतट है, जहां आप... Read more »

सीमा की कलम से

नीली मौत मरती मेघालय की नदियाँ जहाँ मेघों का डेरा है, वहाँ मेघ से बरसने वाली हर एक अमृत बूँदों को सहेज कर समाज तक पहुँचाने के लिये प्रकृति ने नदियों का जाल... Read more »

रोमान्स से भरपूर साउथ इंडिया के ये हिल स्टेशन

हरसिल से सात किलोमीटर की दूरी पर है साताल। यहां सात तालों का नजारा देखने लायक है। यह झील 9 हजार फीट की ऊंचाई पर है। यह झील इतनी बड़ी है कि आप पहाडि़यां, आसमान और बादलों... Read more »

अपनी वास्तुकला से चौंकाती है भूलभूलैया

लखनऊ में अपने नाम के अनुरूप पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र बनी भूल भुलैया अपने निर्माण के करीब 220 साल बाद भी वास्तुकला की अद्भुत नमूना बनी हुई है। अवध के नवाबों के शासन के मूक गवाह... Read more »