भारत के मुसलमानों पर चन्द अल्फाज़ – अतेंद्र सिंह

भारत के मुसलमानों पर चन्द अल्फाज़ – अतेंद्र सिंह
इन मुसलमानो के हांथो… शहनाई थमा दो तो ये *बिस्मिल्लाह खान* बन जाते हैं। इनके हांथो तबला थमा दो तो ये *जाकिर हुसैन* बनजाते हैं, इनके हांथो म्यूजिक थमा दो तो ये आस्कर वीजेता ए. आर. *रहमान* बन जाते हैं… Read more ›

स्त्री प्रश्न है, महज़ विचार नहीं

स्त्री प्रश्न है, महज़ विचार नहीं
सारे दरवाजे बंद कर घनघोर अँधेरे में बैठा वो निराश हताश था दरारों से जीवन ने प्रवेश किया खोल दी खिड़की, जीवन की वो स्त्री थी जो रिक्त हुये में भरती रही उजाले और बदल गई अँधेरे के जीवाश्म में… Read more ›

नजीब के साथ मारपीट करने वाले छात्रों को दिया जाएगा दूसरा हास्टल

नजीब के साथ मारपीट करने वाले छात्रों को दिया जाएगा दूसरा हास्टल
नई दिल्ली । जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र नजीब अहमद को गायब हुए 50 से अधिक दिन हो गए, लेकिन अब तक उसके बारे में कोई सुराग नहीं मिला है। हालांकि, इस बीच जेएनयू प्रशासन ने नजीब के साथ… Read more ›

बेरोजगार हो रहे मजदूरों को मिले बेरोजगारी भत्ता

बेरोजगार हो रहे मजदूरों को मिले बेरोजगारी भत्ता
नई दिल्ली। कांग्रेस ने नोटबंदी से बेरोजगार होने वाले मजदूरों को पांच-पांच हजार रुपये बेरोजगारी भत्ता देने की मांग की है। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने इस संबंध में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखा है। माकन का… Read more ›

धर्म, आध्यात्म, आस्था और विश्वास विरोधी अम्बेड़करवाद कितना जरूरी और कितना सफल?

धर्म, आध्यात्म, आस्था और विश्वास विरोधी अम्बेड़करवाद कितना जरूरी और कितना सफल?
डॉ. पुरुषोत्तम मीणा ‘निरंकुश’ वैज्ञानिकों का कहना है कि— मनुष्य बिना भोजन खाये 40 दिन जी सकता है। बिना पानी पिये 3 दिन जी सकता है। बिना श्वांस लिये 8 सेकण्ड जी सकता है। लेकिन बिना आशा के एक सेकण्ड… Read more ›

ऐसे निर्दयी रिश्तों और समाज का मूल्य क्या है?

ऐसे निर्दयी रिश्तों और समाज का मूल्य क्या है?
(सेवासुत डॉ. पुरुषोत्तम मीणा ‘निरंकुश’) हमारे समाज में बात-बात पर रिश्तों, नैतिकता, संस्कारों और संस्कृति की दुहाई दी जाती है। जिनकी आड़ में अकसर खुनकर नजर आने वाली हकीकत और सत्य से मुख मोड़ लिया जाता है। जबकि समाजिक और… Read more ›