जयललिता के बाद शशिकला अम्मा ही संभालेंगी पार्टी की कमान !

0 commentsViews:

amma-shashikala

चेन्नई। तमिलनाडु की मुख्यमंत्री
जयललिता की निकट सहयोगी
शशिकला को पार्टी महासचिव बनाए
जाने की अटकलों के बीच अन्नाद्रमुक
खुल कर उनके पक्ष में आ गई है।
पार्टी प्रवक्ता ओ पोन्नियन ने कहा कि
अन्नाद्रमुक में कोई दरार नहीं है।
अगर मुख्यमंत्री या अन्य मंत्री शशिकला
के पास आते हैं तो इसमें कुछ भी
गलत नहीं है।
पार्टी एकजुट है और जल्द ही
पार्टी के महासचिव का चुनाव कर
लिया जाएगा, वही अम्मा के पदचिन्हों
पर चलते हुए पार्टी को संभालेगा।
उन्होंने कहा कि पद के लिए ईर्ष्या या
प्रतिद्वंद्विता जैसी कोई बात नहीं है।
क्या जयललिता कोई वसीयत छोड़
गई हैं? इस पर सवाल प्रवक्ता ने कहा
कि ऐसी कोई जानकारी नहीं है।
उन्होंने इससे अधिक कुछ भी कहन

से इन्कार किया।
शशिकला के पति के लौट आने
के सवाल पर प्रवक्ता ने कहा कि इस
सवाल का कोई औचित्य
नहीं है।पोन्नियन के अनुसार, पार्टी को
जयललिता एक मजबूत दुर्ग के रूप
में बना कर गई हैं। उन्होंने कहा कि
पार्टी पर संगठनात्मक नियंत्रण है।
शशिकला उसका महत्वपूर्ण हिस्सा हैं।
सरकार के मुखिया ओ पन्नीरसेल्वम
हैं।यह पूछे जाने पर कि पन्नीरसेल्वम
और बाकी मंत्री पोएस गार्डन में क्या
शशिकला से मिल रहे हैं उनका जवाब
था, हम अभी तक शोक में हैं और सब
जयललिता को श्रद्धांजलि देने आ रहे
हैं, ऐसे में एक वर्ग का काल्पनिक
कहानियां बनाना अच्छा नहीं है।
बीमारी के दौरान जयललिता के
नजदीक किसी को न फटकने देने से
शशिकला के प्रति पार्टी के एक वर्ग में
गुस्से को उन्होंने नियोजित अफवाह
बताया।
उन्होंने कहा कि जयललिता और
एमजी रामचंद्रन की आत्माएं पार्टी को
नेतृत्व दे रही हैं, इसलिए यह कहना
सही नहीं होगा कि पार्टी में कोई शून्य
है।

 


Facebook Comments