बेरोजगार हो रहे मजदूरों को मिले बेरोजगारी भत्ता

0 commentsViews:

ajay_maken

नई दिल्ली। कांग्रेस ने नोटबंदी से
बेरोजगार होने वाले मजदूरों को
पांच-पांच हजार रुपये बेरोजगारी भत्ता
देने की मांग की है। दिल्ली प्रदेश
कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने इस
संबंध में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल
को पत्र लिखा है। माकन का कहना है
कि नोटबंदी की वजह
से समाज का प्रत्येक
वर्ग प्रभावित हुआ है,
लेकिन इसका सबसे
भयावह प्रभाव दैनिक
मजदूरों, अस्थायी
कर्मचारियों तथा
असंगठित क्षेत्र में काम
करने वालों पर पड़ा
है। इनकी नौकरी जा रही है, जिससे
ये वापस अपने घर जाने को मजबूर हो
रहे हैं। इससे दिल्ली की अर्थव्यवस्था
प्रभावित हो रही है। इसलिए इन मजदूरों
को रोकने के लिए दिल्ली सरकार को
बेरोजगारी भत्ता देने की घोषणा करनी
चाहिए। प्रदेश कार्यालय में आयोजित

प्रेसवार्ता में माकन ने कहा कि रोजगार
पर नेशनल सैंपल सर्वे आर्गनाइजेशन
के सर्वे के अनुसार दिल्ली में असंगठित
क्षेत्र में 85 फीसद से ज्यादा लोग काम
करते हैं। इनकी संख्या 48.63 लाख
के करीब है। नोटबंदी की वजह से
इनपर बेरोजगारी की तलवार लटक
रही है, जिससे लाखों
मजदूर दिल्ली छोड़ चुके
हैं। रोजाना 10 से 15
हजार लोग दिल्ली से
वापस अपने घर लौट रहे
हैं। उन्होंने कहा कि इन
असंगठित मजदूरों के
कारण ही दिल्ली आगे बढ़
रही है। यदि ये वापस
अपने गाव और शहर चले गए तो
दिल्ली की हालत खराब हो जाएगी
तथा इसे वापस पटरी पर लाने में
बहुत समय लगेगा। उन्होंने कहा कि
असंगठित मजदूरों का पलायन रोकने
के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल
को तत्काल कदम उठाना चाहिए।

 


Facebook Comments