आत्महत्या नहीं पैर फिसलने से डूबी लड़की

 

 

 

 

 

रूपनगर ( पियूष ) छब्बीस वर्षीय सोनिया पुत्री राज कुमार जिसकी सोमवार को सरहिंद नहर में डूबने से मौत हो गई थी के शव का पोस्टमार्टम करवाने के बाद लाश परिजनों को सौंप दी गई है। लड़की के भाई रवी कुमार ने सिटी पुलिस के पास दर्ज करवाई रिपोर्ट में कहा कि उसकी बहन दिमागी तौर पर परेशान रहती थी, जो पैर फिसलने की वजह से सरहंद नहर में डूब गई। मृतका के भाई द्वारा किसी पर शक न होने व कार्रवाई न करवाने की वजह से पुलिस ने कोई मामला दर्ज नहीं किया। मंगलवार को शव पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजनों को सौंप दी है।

मृतका सोनिया के भाई रवि के मुताबिक वह प्राइवेट कंपनी में कार्यरत है। वह रूपनगर में अपनी मासी की लड़की के विवाह समागम में हिस्सा लेने आए थे। घटना के दिन उसकी बहन सोनिया व मासी की लड़की ब्यूटी पार्लर में सजने आई थी। इसी दौरान वह फोन रिचार्ज करवाने निकली परन्तु वापिस नहीं लौटी। बाद में उसे पता चला कि उसका शव एस.ए.एस अकादमी के पास नहर में पड़ा है। रवि के मुताबिक उसकी बहन दिमागी तौर पर परेशान रहती थी जिसकी वजह से उन्हें किसी व्यक्ति व रिश्तेदार पर शक नहीं है। इसलिए कानूनी कारवाई नहीं करवाना चाहता। थाना प्रभारी मनवीर सिंह ने कहा कि लड़की के परिजनों ने कानूनी कारवाई करवाने से मना कर दिया है, जिसकी वजह से पुलिस ने धारा 174 के तहत कारवाई कर शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया है।

गौरतलब है कि सोमवार सुबह करीब साढ़े बारह बजे लड़की ने सरहंद नहर में छलांग लगा दी। लड़की की पहचान सोनिया पुत्री राज कुमार निवासी नाहन जिला सिरमौर (हिमाचल प्रदेश) के रूप में हुई।