पसोपेश में हूँ ..

Neelima

 

 

पसोपेश में हूँ …..
तुम क्या कहोगे?
हाँ या नही
तुम जानते हो न मेरे प्यार की
शिद्दत , और तुमने भी
मुझे इतना प्यार किया
कि
अब तुम्हारा अकेलापन
सालता हैं मुझे
अपने अकेलेपन को दरकिनार कर ,
मैं जानती हूँ
मेरे होने से या न होने से
तुम्हारे आस पा ज्यादा कुछ नही बदलेगा
तुम तब भी उतने ही व्यस्त रहोगे
जितने अभी रहते हो
लेकिन ज्यादा कुछ के आस- पास
जो थोडा कुछ बचता हैं ना
मुझे सिर्फ उसी की फ़िक्र हैं
इस लिय
हाँ , हाँ
सिर्फ इसी लिय
मुझे तुम्हारे साथ आना हैं
कुछ दिन की मुझे भी फुर्सत हैं आजकल
और
तेरे संग
उन कुछ पलो की
जिन्दगी को जीना हैं

नीलिमा शर्मा ( निविया )