कौशिल्या है विश्व की सबसे बुजुर्ग महिला!

0 commentsViews:

Kaushilya Devi

 

 

 

 

 

 

 

असल में रिकार्ड टूटने के लिए ही बनते हैं। अगर दावा सच साबित हुआ तो अमेरिका की 116 साल की बेस कूपर

का वो रिकार्ड भी टूट जाएगा जो उन्हे दुनियां की सबसे ज्यादा उम्र की जीवित महिला होने का गिनीज बुक आफ

वल्र्ड रिकार्ड का तगमा दिया है। शायद बात समझ में न आई हो मगर यह सही है। बेस कूपर के रिकार्ड पर दावा

किया है उत्तर प्रदेश के सबसे पिछडे व नक्सल प्रभावित जनपद चन्दौली के नौगढ़ क्षेत्र के अमृतपुर गांव की

रहने वाली कौशिल्या देवी के परिजनों ने।

विंध्य पर्वत श्रृंखला की पहाड़ों में न जाने कितने रहस्य व तिलिस्म छुपे हैं। नौगढ़ और चुनारगढ़ की घाटियों

में चन्द्रकान्ता की याद आज भी ताजा है। चन्द्रप्रभा वन जीव अभ्यरण में न जाने कितने जंगली जानवर

विचरण कर रहे हैं। पहाड़ों के बीच बहते झरनें व नदीयों की कल-कल करती आवाज बर्बस ही लोगों को अपनी तरफ

आकर्षित करते हैं। राजदरी व देवदरी जैसे मनोरम जलप्रपात इसी घाटी में हैं। अगर सब कुछ ठीक रहा तो गिनीज

बुक आफ वल्र्ड रिकार्ड में यहां की कौशिल्या देवी का नाम भी सबसे उम्रदराज जीवित महिला के रूप में दर्ज

हो जाएगा। 150 लोगों के परिवार की सबसे बुजुर्ग मुख्यिा कौशिल्या देवी के परिजनों का दावा है कि कौशिल्या

देवी की उम्र 130 साल है इसलिए उनका नाम गिनीज बुक आफ वल्र्ड रिकार्ड में सबसे बुजुर्ग महिला के रूप में

शामिल किया जाए। अगर ऐसा हुआ तो नक्सल पदचापों से दहले वाले क्षेत्र में गिनीज बुक आफ वल्र्ड रिकार्ड

का तहलका मच जाएगा।

कौशिल्या के सबसे छोटे बेटे पांचू के मुताबिक उनके नौ भाई-बहनों में सबसे बडी बहन मंगरी देवी का जन्म 1904

ई0 में हुआ था। इस आधार पर मेरी मां का उम्र 130 साल का होता है। कौशिल्या के पोते हरिश्चन्द्र ने बताया कि

दादी के जन्म का उनके पास कोई दस्तावेज तो नहीं है मगर मौखिक रूप में लोगों के द्वारा बताया जाता है कि उनकी

उम्र लगभग 130 साल की है। बात निकली है तो दूर तलक जायेगी सो यह खबर प्रशासन के हुक्मरानों तक जा

पहुंची। एसडीएम चकिया का अमृतपुर गांव का दौरा हुआ तो जिलाधिकारी चन्दौली पवन कुमार ने डाक्टरों की एक

टीम भेजकर कौशिल्या देवी का मेडिकल परिक्षण कराया रिर्पोट का इंतजार है। सथ ही जिलाधिकारी ने राजस्व

व डेवलेपमेंट विभाग को भी कौशिल्या के वास्तविक उम्र का पता लगाने का निर्देष दिया है। चन्दौली सांसद

रामकिशुन यादव का कहना है कि अगर मेडिकल जांच में कौशिल्या देवी की उम्र 130 साल की सबित हुई तो क्षेत्र

के सांसद के नाते मैं इस सम्बंध में भारत सरकार से बात करूंगा।

कौशिल्या के कुनबे पर गौर फरमायें तो तकरीबन आधा गांव ही उनका परिवार है। फिल्वक्त तकरीबन 175 सदस्यों

का भरा पूरा कुनबा है, जो कि गांव के आधी आबादी के बराबर है। उनके परिवार में पांच पीढ़ी के लोग शामिल हैं। उम्र

के इस ढलान के बावजूद कौशिल्या 6 बार भोजन करती हैं। चावल की तुलना में रोटी ज्यादा पसंद है। आज तक उन्हे

किसी गम्भीर शारीरिक बीमारी ने अपनी गिरफत में नहीं लिया। उनके पति धनदेव मौत 2002 में हुई थी।

अब सबको इंतजार है मेडिकल जांच रिपोर्ट व अन्य साक्ष्यों की जिसके आधार पर कौशिल्या की असल उम्र

का पता चल सके। लोगों में उत्साह है कि अगर ऐसा हुआ तो जिले की बुजुर्ग महिला विश्व की दादी अम्मा बन

जायेंगी।

एम. अफसर खां सागर

स्वतंत्र पत्रकार व लेखक

 


Facebook Comments