हिम्मत मत हार तूँ

BeautyPlus_20151012195855_save

हिम्मत मत हार तूँ,
होगी हार,
किस्मत में तेरी,
पर,
खुद पर कर,
विश्वास तूँ।
पंछी उड़ते,
हिम्मत से खुद की,
भले किस्मत ने दिए,
डैने उनको।
आगे बढ़,
करले मुट्ठी मे,
ये जहान तूँ,
हिम्मत मत हार तूँ।
नन्हीँ सी चींटी,
हाथी को मारे,
जो ना हो हिम्मत,
तो कौवा भी,
हंस को हरा दे।
कर खुद से,
मुलाकात तूँ।
घायल है,
तो क्या हुआ,
पार कर सकता है,
ये पहाड़ तूँ,
हिम्मत मत हार तूँ।
सोलह बार दुश्मन को हराये,
खुद पर था,
विश्वास उन्हे,
सो अन्धे हो कर भी,
इतिहास रचाये।
रख हौसला,
कर समय से विवाद तूँ,
हिम्मत मत हार तूँ,
होगी हार,
किस्मत में तेरी,
पर,
खुद पर कर,
विश्वास तूँ |