नारी तुम महान करो खुद की पहचान – सीमा निगम

सारा सच हमारीवाणी
*नारी तुम महान,,,,,करो खुद की पहचान*

*सारा सच* यही है नारी सशक्तिकरण के इस युग में नारी द्वारा अपने बुने हुए स्वप्न संसार की, अपने सपनों को हकीकत में बदलने की चेष्टा नारी को स्वयं करनी होगी| अपनी मदद उसे स्वयं करनी होगी एक बहन बेटी पत्नी मां से ऊपर उठकर खुद के लिए खुद को सोचना होगा, महिला दिवस पर समस्त नारियों से आह्वान हैं कि *नारी के लिए नारी के द्वारा नारी का प्रकाश पुंज बने |*
*खुद पर हक हो अपना*
खुद पर सबसे पहला हक अपना होना चाहिए हम जहाँ है जैसे भी हैं खुद की सुने जितना कर पा रहे है उसी में खुष रहे और जो नहीं कर पा रहे है उनके लिए दुखी न हो सबसे पहले अपने लिए सोच अपने मन पर अपना अधिकार रखे। जहाँ भी जैसे हो, अपनी खुद की सुने, खुद के लिए जियें।
आज की नारी आगे बढ़ी है बहुत आगे बढ़ी है वक्त के साथ चलना और खुद की अपडेट करते रहना आज उसकी आदत में शुमार ही चुका है स्वयं को बेहतर सिद्ध करने की हर संभव कोषिष करती है लेकिन इसका अर्थ यह नहीं कि अपना अस्तित्व ही भूल जाय, सब के लिए सोचे लेकिन सबसे पहले अपने लिए सोचे सब की इच्छाओं का ध्यान रखे पर अपनी इच्छाओं का भी सम्मान करें। जिस दिन सारे दबाव से मुक्त कर लेंगे, उस दिन सारे दबाव से मुक्त कर लेंगे, उस दिन अपने होने का एहसास कर पायेंगे।
*खुद के लिए वक्त*
यह सच है बहुत कुछ पाने के लिए बहुत कुछ खोना पड़ता है लेकिन इसका अर्थ यह नहीं कि आप अपना अस्तित्व ही भूल जाय सकुन से बैठकर दो पल अपने लिए सोचने का टाइम नहीं है सुबह उठना दिनभर काम करना फिर बंधी बधाई दिनचर्या जीना कामयाब जिदंगी की चाह व पैसा कमाने की ख्वाहिश ने हमारे निजि क्षणों को बहुत प्रभावित किया है, अब आपको अपने लिए वक्त निकालना होगा अपने लिए जीना होगा अपनी इच्छाओं अपनी आंकाक्षाओं को पूरी करनी होगी।
*रिलेक्स रहना सीखें*
परिवार कैरियर में तालमेल बिठाती आज की नारी वाकई काबिले तारीफ है आदर्श नारी बनकर सबका दिल जीत रही है दूसरो के लिए जीना अच्छी बात है पर स्वयं के लिए खुद को सोचना होगा, अपनी पसंद नापंसद ख्याल रखे अपने को समय दे रिलेक्स रहे और सुपर उमन बनने की बजाए घर के सदस्यों की मदद ले इसमें आप रिलेक्स भी रहेगी और घर का काम भी हो जाएगा।
*जी खोलकर जियो*
जिदंगी जीने के लिए नहीं बल्कि जिंदगी जीती है इसलिए जीये अपने आज में जाये छोटी-छोटी बातों का लुफ्त उठाएं खुशी के छोटे-छोटे अनमोल पलो को सहेजकर रखिए हमेशा कमियों का रोना न रोये, आपको जो चिंता है उसकी कद्र करे और जिंदगी को बेहतर बनाने की कोशिश करे, खुशी आपके अंदर है आपके मन के किसी कोने में आपको बस उसे महसूस करना है और जीवन को खुलकर जीना है।
*समय के साथ चले*
सफलता विफलता जिंदगी का हिस्सा है हमेशा सफलता मिले जरूरी नहीं है, कई बार घटना और परिस्थिति पर हमारा बस नहीं होता कई बार दबाव में जरूर गलत फैसले भी ले लेते है, मगर उस पर बैठकर आंसू नहीं बहाया जा सकता गलतियों से सबक ले, गिरो संभलो, खड़े हो और चलते रहो, बस रूको नहीं क्योंकि जहाँ भी रूके, वक्त वही से आगे निकल जायेगा।
*फिटनेस बरकरार रखे*
हर स्त्री अपने आप के लिए खास होती है अगर आप फिट रहेगी तो अपने आप आपको अच्छा लगेगा मन के साथ तन की सुंदरता बनाए रखे सुबह की सैर करे नियमित योगा एक्ससाइज करे सही खान-पान रखे नियम संयम से रहे चैन की नींद सोये अपने आप को निखारे-संवारे स्वस्थ्य व सुन्दर दिखे इससे अपने आप आत्मविश्वास बढ़ेगा।
*प्रोफेशनल की मदद ले*
स्वालंबन और आत्मविश्वास के दहलीज पर खड़े होकर आप अपने घर परिवार के लिए बहुत कुछ कर रही है ऐसे में कई तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ता है, खुद को कमजोर न समझे अगर मन में दुविधा है कोई परेशानी या डिप्रेसन है तो लोगों से बात करे या फिर किसी प्रोफेशनल की मदद लेने में संकोच न करे सही समय पर सही निर्णय लेकर अपने आप की मदद करे।
*बदले नजरिया*
ज्माना बदल गया है नये जमाने की नई तकनीक अपनाकर आप खुद को अपडेट रखे, सबसे पहले आप सोशल स्किल डेवलप करे जैसे नये-नये लोगों से मिले-जुले पुराने परिचितों से फिर संपर्क करे, प्राथमिकता से हिसाब से काम करे और अनावश्यक फोन काल्स, चैटिंग, सोशल नेटवर्किंग में ज्यादा समय न गवांए हर समय बदलाव के लिए तैयार रहे।
बस आज से अपने लिए जीना है ,अपनी इच्छाएं पूरी करनी है खुद के लिए कुछ करनी है, हर सुबह अपने आप से कहे, मैं भाग्यशाली हूँ कि एक और दिन मुझे अपने लिए जीना है इसे व्यर्थ नहीं करना है बल्कि इसे सजाना है संवारना है अपराधबोध से परे होकर आत्मविश्वास के साथ अपने आप पर अपना हक जताना है *यही सारा सच है*

*सीमा निगम रायपुर*
मो- 7869458122