हिंदी के प्रसार में योगदान के लिए 28 लोग पुरस्कृत

नई दिल्ली। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने हिन्दी भाषा के प्रसार और विकास
में उत्कृष्ट योगदान के लिए तीन पत्रकारों और इसरो के एक वैज्ञानिक सहित
28 लोगों को ‘हिन्दी सेवी सम्मान’ से पुरस्कृत किया। राष्ट्रपति भवन में
आयोजित एक समारोह में वर्ष 2010 और 2011 के लिए सात श्रेणियों में लोगों
को पुरस्.त किया गया। विख्यात लेखक वेद राही और असगर वजाहत को
‘महापंडित राहुल सां.तयायन’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया। हिन्दी पत्रकारिता
में योगदान के लिए पत्रकारों में रवीश कुमार, दिलीप कुमार चौबे और गोविंद
सिंह को ‘गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार’ दिया गया। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान
संगठन के वरिष्ठ वैज्ञानिक काली शंकर को विज्ञान और तकनीकी विषयों पर
हिन्दी में लेखन के लिए ‘आत्माराम पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया। विदेश
में हिन्दी के प्रसार के लिए दो विदेशियों उजबेकिस्तान के शामतोर्फ आजाद और
दक्षिण कोरिया की वू जो किम को ‘डॉ. जार्ज ग्रिअर्सन पुरस्कार’ दिया गया। इस
अवसर पर अन्य लोगों के अलावा मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी और
केन्द्रीय हिंदी संस्थान के निदेशक प्रोफेसर मोहन उपस्थित थे।