इस्तीफा देने की गलती नहीं दोहराएंगेः केजरीवाल

ArvindKejriwal--621x414

न्यूयार्क। अरविंद केजरीवाल ने अमेरिका में अपने समर्थकों को आश्वासन
दिया कि दिल्ली में अगर आम आदमी पार्टी (आप) सत्ता में वापस लौटती है
तो वह इस्तीफा देने की ‘गलती’ नहीं
दोहरायेंगे। उन्होंने पार्टी के टूटने की धारणा
को खारिज करते हुए कहा कि उनकी ‘आप
बस’ के ब्रेक और क्लच ठीक तरीके से
काम कर रहे हैं। शहर में रविवार को अपने
व्यस्त कार्यक्रम के दौरान केजरीवाल ने
आप कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ
एक बैठक में स्वीकार किया कि पिछले
साल दिल्ली में सत्ता में आने पर पार्टी ने
49 दिन के बाद त्यागपत्र देने का ‘गलत
राजनीतिक आकलन’ किया।
केजरीवाल ने दिल्ली चुनाव के लिये
समर्थन मांगते हुए कार्यकर्ताओं को आश्वासन दिया कि वह अब गलती नहीं
दोहराएंगे। आप की सफेद टोपी और हाथों में बैनर एवं तख्तियां लिए अपने
लगभग 200 कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुये केजरीवाल ने कहा, ‘‘उस
समय हमने सोचा कि अगर हम इस्तीफा दे देते हैं, तो जल्द चुनाव होगा।’’
केजरीवाल ने कहा कि पार्टी ने यह नहीं सोचा था कि चुनाव नहीं कराया जाएगा
और शहर में राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया जाएगा जो लगभग 11 महीने तक
जारी रहेगा।
केजरीवाल ने कहा, ‘‘यह एक गलत राजनीतिक आकलन था, वह एक
गलती थी।’’ शाजिया इल्मी जैसे नेताओं के पार्टी से चले जाने के बाद से पार्टी
में टूट के बारे में कहने वालों पर भी केजरीवाल ने हमला किया। उन्होंने कहा
कि लोग कह रहे हैं कि पार्टी टूट रही है क्योंकि इसके नेता उसे छोड़ रहे हैं।