बेंगलूरू बम धमाके की जांच जारीः राजनाथ

Rajnath-Singh

नई दिल्ली । बेंगलूरू में हुए
विस्फोट को एक ‘‘आतंकी हमला’’
करार देते हुए केन्द्र सरकार ने कहा
कि इस मामले को जांच के लिए
एनआईए को सौंपा जा सकता है।
इसके साथ ही उसने कर्नाटक सरकार
से बेंगलूरू में सीसीटीवी कैमरों की
संख्या को बढ़ाकर सुरक्षा को मजबूत
बनाने को कहा। बेंगलूरू में हुए विस्फोट
के एक दिन के बाद यहां आयोजित
एक उच्च स्तरीय सुरक्षा समीक्षा बैठक
में हिस्सा लेकर निकल रहे राजनाथ
सिंह ने कहा कि उचित जांच के बाद
ही यह पता लग सकेगा कि विस्फोट
की प्र.ति क्या है और इसके पीछे कौन
लोग हो सकते हैं। बेंगलूरू में रविवार
रात एक रेस्टोरेंट के बाहर हुए कम
तीव्रता वाले एक विस्फोट में एक महिला
मारी गयी और तीन व्यक्ति धायल हो
गये। गृह राज्य मंत्री किरण रिजीजू ने
कहा यह एक आतंकी हमला था। उन्होंने
कहा कि जांचकर्ता घटना से जुड़े तारों
को एक साथ जोड़ने का और विस्फोट
में शामिल लोगों का पता लगाने का
प्रयास कर रहे है। इस विस्फोट के
पीछे किसका हाथ हो सकता है, यह
पूछे जाने पर उन्होंने कहा ‘‘इस बारे में
अभी कुछ भी कहना जल्दीबाजी होगी।
जांच चल रही है। गृह मंत्री राजनाथ
सिंह ने कहा कि केन्द्र सरकार बेंगलूरू
विस्फोट की जांच में कर्नाटक सरकार
को हर संभव मदद करेगी। उन्होंने
राज्य सरकार से आईटी सिटी के सभी
प्रमुख इलाकों में पर्याप्त संख्या में
सीसीटीवी कैमरे स्थापित करने को
कहा।
सिंह ने सभी राज्य सरकारों से,
खासकर उनसे जिनके यहां प्रमुख
शहर हैं, शहर के प्रमुख इलाकों में
ज्यादा से ज्यादा संभव संख्या में
सीसीटीवी कैमरे लगाने की भी अपील
की। उन्होंने कहा, ‘‘केन्द्र सरकार इस
कार्य में राज्य सरकारों को सभी सहायता
मुहैया कराने को तैयार है।