फिर दिल्ली के सीएम बने केजरीवाल

0 commentsViews:

Arvind K

नई दिल्ली। दिल्ली में आम आदमी
पार्टी (आप) को 70 में से 67 विधानसभा
सीटें जितवाने में अहम भूमिका निभााने
वाले पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद
केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री बन
गए हैं। दिल्ली के उप-राज्यपाल नजीब
जंग ने शनिवार को रामलीला मैदान
में केजरीवाल को पद और गोपनीयता
की शपथ दिलाई। केजरीवाल के बाद
मनीष सिसोदिया, असीम अहमद खान,
संदीप कुमार, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय
और जीतेंद्र सिंह तोमर ने मंत्री के रूप
में शपथ ली। शपथ ग्रहण के बाद
रामलीला मैदान के मंच से केजरीवाल
लोगों को संबोधित किया। उन्होंने कहा,
श्हमें अहंकार से बचना होगा। लोकसभा
चुनाव लड़ना हमारा अहंकार था। आने
वाले पांच साल मैं दिल्ली की सेवा
करूंगा। मैं सभी पुलिस वालों और
अधिकारियों को निर्देश देता हूं कि
अगर कोई टोपी वाला बदमाशी करता
है तो उसे तुरंत जेल में डाल देना।
कानून में जितनी सजा तय है, उससे
दोगुनी सजा उसे देना।
उन्होंने अभिभाष्ण में कहा दोस्तों,
मुझे यह तो पता था कि दिल्ली के
लोग हमें प्यार करते हैं लेकिन मुझे
यह नहीं पता था कि वो हमसे इतना
प्यार करते हैं कि 70 में से 67 सीटें दे
दीं। जिस दिन नतीजे आ रहे थे ऐसा
लग रहा था सीटों की बारिश हो रही
है। हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, जैनियों,
हर धर्म, हर जाति के लोगों ने हमें वोट
दिया। गरीबों ने जमकर वोट दिया।
अमीरों ने भी हमें वोट दिया। यह एक
कुदरत का करिश्मा है ऊपर वाला
कुछ कहने की कोशिश कर रहा है।
ऊपर वाले की कोई बहुत बड़ी मंशा है,
हम तो केवल माध्यम हैं, लेकिन हम
बहुत सौभाग्यशाली हैं कि ऊपर वाले
ने हमें अपना माध्यम चुना है।
अन्ना आंदोलन के दौरान हम लोग
खूब नारे लगाते थे, लेकिन मन में
संशय होता था कि क्या भ्रष्टाचार खत्म
हो पाएगा, लोकपाल की मांग भी हम
करते थे लेकिन तब भी सोचते थे कि
क्या इससे भ्रष्टाचार खत्म हो पाएगा।
49 दिनों की सरकार में हमने भ्रष्टाचार
खत्म करके दिखाया। 49 दिन की
सरकार चलाने के बाद आज हमारे
अंदर कॉन्फिडेंस है कि दिल्ली को
भ्रष्टाचार मुक्त बना सकते हैं।


Facebook Comments