UP से बिहार तस्करी हो रही थी शराब, 407 कार्टन शराब के साथ 3 गिरफ्तार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दो साल पहले राज्य में शराब पर पाबंदी लगा दी, लेकिन दो साल बाद भी आलम यह है कि बिहार में जमकर शराब की अवैध खरीद-फरोख्त हो रही है. शराबबंदी लागू करने के लिए पुलिस जितनी ही सख्ती बढ़ाती जा रही है, शराब के अवैध तस्कर शराब की खेप को सुरक्षित बिहार में पहुचाने के लिए नए नए हथकंडे भी अपना रहे हैं. मतलब पुलिस डाल-डाल तो शराब तस्कर पात-पात.

ऐसे ही शराब तस्करों के एक गिरोह का पर्दाफाश यूपी की मुगलसराय पुलिस ने किया है. बता दें कि मुगलसराय बिहार की सीमा से सटा हुआ है. तस्कर लग्जरी गाड़ियों में शराब की तस्करी तो करते थे. लेकिन चेकिंग सख्त होने के बाद उन्होंने नया रास्ता अख्तियार कर लिया है.

पिक अप वैन को मोडिफाई करवाकर होती थी तस्करी

ये तस्कर बिहार तक शराब पहुंचाने के लिए बाकायदा पिक-अप वैन को मोडिफाई करवा लेते हैं. पिक वैन को मोडिफाई कर उसमें अलग से एक चेम्बर बनवा लेते हैं और उसी चेंबर में शराब की पेटियों को भरकर बिहार ले जाया करते थे.

पुलिस ने इसी तरह की पिक अप वैन के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने उनके पास से लाखों रुपये कीमत की तकरीबन 20 हजार अवैध शराब की बोतलें, दो लग्जरी कार समेत एक पिकअप वैन और तीन मोटरसाइकिलें भी बरामद की हैं.

मध्य प्रदेश में निर्मित होती है शराब

बिहार में शराब की अवैध तस्करी होती तो उत्तर प्रदेश के रास्ते से है, लेकिन यह शराब बनती है मध्य प्रदेश में. मध्य प्रदेश में निर्मित शराब के इस जखीरे को वाराणसी से सटे चंदौली की एक बंद पड़ी राईस मिल में छुपाकर रखा गया था. वहीं से यह शराब मोडिफाइड गाड़ियों में भरकर बिहार के लिए तस्करी की जाती थी.

3517 लीटर शराब जब्त

पुलिस ने बताया कि तस्कर मोडिफाइड पिक अप वैन के निचले हिस्से में बनवाए गए स्पेशल चेंबर में शराब की पेटियों को छुपा देते थे और उपर वाले सामान्य हिस्से में अन्य सामान रखकर बिहार में शराब की सप्लाई करते थे.

लेकिन इनका यह खेल पुलिस के सामने खुल गया. चंदौली के SP संतोष कुमार सिंह ने बताया कि मुगलसराय पुलिस द्वारा शराब के बड़े खेप की रिकवरी की गई है, जिसकी सप्लाई बिहार की जा रही थी.उन्होंने बताया कि तस्करों के पास से कुल 3517 लीटर शराब बरामद हुई है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार तीनों अभियुक्त चंदौली के ही रहने वाले हैं और इनके कब्जे से एक जायलो कार, एक क्वांटो कार, एक बोलेरो पिकअप और तीन मोटरसाइकिलें भी बरामद हुई हैं.