सगी माँ का ये कैसा रूप ??

0 commentsViews:

vibha

रिश्ते में बहू से मुलाकात वर्षो बाद हुई ….। बात-चीत के क्रम में …। आपबीती सुनते सुनाते दौरान बहू अपने पति की जुल्म की इंतहा सुनाने लगी फिर वो अपने आप को दिलासा भी देती जाती …. इसी क्रम में वो बताई कि जब उसका पति छोटा था ….। एक दिन सास(पति की माँ) पुआ तल रही थी पति दौड़ता आया और माँ से पुआ की मांग कर बैठा …। माँ ,खौलते घी से पुआ निकाल कर ,खौला पुआ बेटे के हथेली पर रख दी पुआ की चाह बेटे ने हथेली को बचाने के चक्कर में पुआ मुंह में डाल लिया हथेली ,मुंह और पेट की जलन ,उस बेटे को औरत के प्रति क्रूर बना दिया बेटे से छोटी सी भी गलती हो जाती ..। मारते-मारते लहूलुहान कर देती …। वही बेटा जब पत्नी के साथ जुल्म करता तो कहती मर्द है मर्दांगी दिखा रहा है सगी माँ का ये कैसा रूप ??

विभा रानी श्रीवास्तव

 

 


Facebook Comments