World Sparrow Day: इन चिड़ियाओं ने सिखाया जिंदगी का सबक, ऐसी ही 3 जबरदस्त मिसाल

नई दिल्ली: विश्व गौरैया दिवस (World Sparrow Day) का आयोजन हमारे आसपास रहने वाली चिड़ियाओं को लेकर जागरूकता पैदा करने के लिए किया जाता है. बढ़ते शहरीकरण और कंक्रीट के जंगलों के बनने से इन चिड़िया या गौरैया के अस्तित्व को खतरा पैदा हो चुका है. इसलिए विश्व गौरैया दिवस हर साल 20 मार्च को मनाया जाता है. वैसे भी आज हम अपने आसपास देखें तो यह प्यारा सा प्राणी गायब होता जा रहा है, इमारतों के बनने से इनके रहने के ठिकाने कम हो गए हैं और खाने के लिए भी कुछ नहीं बचा है. इसलिए हमारे साथ रहने और पलने वाला यह प्यारा सा जीव धीरे-धीरे विलुप्त होता जा रहा है. लेकिन जागरूकता फैलाई जा रही है, और अब लोगों ने घरों के बाहर कृत्रिम घोंसले बनाने शुरू किए हैं और पानी भी रखने लगे हैं.

लेकिन बॉलीवुड और टेलीवजन पर भी इन चिड़ियाओं का खास महत्व रहा है. दूरदर्शन का 1974 में बना ‘एक चिड़िया अनेक चिड़िया’ जबरदस्त मिसाल है. इसमें चिड़ियाओं की एकता के माध्यम से जीवन में एकता के महत्व को समझाया गया है. 1980 के दशक में यह विज्ञापन जबरदस्त हिट था, और हर किसी के बचपन की खूबसूरत यादें इससे जुड़ी हुई थीं. ये शॉर्ट फिल्म जबरदस्त ढंग से हिट रही थी और इसे खूब पसंद किया जाता था.

बॉलीवुड भी चिड़ियाओं को भूला नहीं है. समय-समय पर गानों में इनका जिक्र आता रहता है. ‘अब दिल्ली दूर नहीं’ फिल्म का गाना ‘चुन चुन करती आई चिड़िया’ आज भी जेहन में जिंदा है, और इसमें जो फक्षियों का जिक्र किया गया है, वह बहुत ही कमाल है और ऐसे दौर में ले जाता है जहां जिंदगी और पक्षियों का करीबी साथ नजर आता है.

इसके अलावा, ‘ज्योति’ फिल्म में जीतेंद्र का गाना ‘चिड़िया चू चू करती है’ भी कमाल का है. इनके जरिये इस प्राणी को अपने करीब महसूस किया जा सकता है. यही नहीं, सुशांत सिंह राजपूत चंबल पर एक फिल्म में काम कर रहे हैं और इसका नाम ही ‘सोन चिरैया’ है.